किसानों की आय को दोगुना करने के लिए संकल्पबद्ध है केन्द्र की भाजपा सरकार: केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री चौधरी

0
20
केन्द्रीय भेड एवं ऊन अनुसंधान संस्थान अविकानगर के स्थापना दिवस पर सांसद जसकौर मीणा, जौनापुरिया, विधायक चौधरी, निदेशक डॉ. तोमर व अन्य अतिथियों के साथ केक काटते केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी
केन्द्रीय भेड एवं ऊन अनुसंधान संस्थान अविकानगर के स्थापना दिवस पर सांसद जसकौर मीणा, जौनापुरिया, विधायक चौधरी, निदेशक डॉ. तोमर व अन्य अतिथियों के साथ केक काटते केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी

केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी मंगलवार को टोंक जिले के मालपुरा दौरे पर रहे। इस दौरान मंत्री ने यहां केंद्रीय भेड़ एवं ऊन अनुसंधान केंद्र अविकानगर में संस्थान के स्थापना दिवस पर आयोजित राष्ट्रीय भेड़-ऊन एवं किसान मेले में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। इस अवसर पर दौसा सांसद जसकौर मीणा, टोंक सवाईमाधोपुर सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, मालपुरा-टोड़ारायसिंह विधायक कन्हैयालाल चौधरी सहित संस्थान निदेशक डॉ0अरुण कुमार तोमर भी उनके साथ रहे। केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने यहां मेले लगाई गई संस्थान से जुड़े उत्पादों व भेड़ प्रदर्शनी का अवलोकन किया। साथ ही संस्थान में भेड़-बकरी व खरगोश पर किये जा रहे अनुसंधानों के बारे में विस्तार से जानकारी ली। इस मौके पर केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार लगातार किसानों की आय को दोगुना करने के लिए संकल्पबद्ध है तथा इसके लिए लगातार कल्याणकारी योजनाओं को लागू करने के साथ-साथ नवाचार किया जा रहा है जिससे देश का किसान समृद्ध, खुशहाल व आत्मनिर्भर हो सके। उन्होंने कहा कि किसान को अपनी आय को दोगुना करने तथा आत्मनिर्भरता के लिए कृषि के साथ-साथ पशुपालन को भी आत्मसात करना होगा जिससे वह अतिरिक्त आय अर्जित कर सके। संस्थान द्वारा किए शोध कार्यो, उन्नत नस्ल व तकनीकों के प्रयोग से मिल रही उपलब्धियों पर केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री ने संस्थान के वैज्ञानिकों, अधिकारियों-कर्मचारियों की जमकर सराहना की। उन्होंने वैज्ञानिकों द्वारा लगातार किए जा रहे शोध के बाद केंद्र व राज्य सरकार की ओर से किसानों व मवेशीपालकों के हित में लागू की गई योजनाओं पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने अविकानगर संस्थान की जमकर सराहना करते हुए संस्थान द्वारा विकसित की गई तकनीकों से किसानों को ज्यादा से ज्यादा लाभान्वित कर आर्थिक स्तर उंचा करने पर जोर दिया। चौधरी ने कहा कि क्षेत्र में भेड, बकरी व खरगोश पर शोध एवं उन्नत तकनीकों को विकसित करने वाला संस्थान क्षेत्र के दुधारू पशुपालकों के लिए भी वरदान साबित होगा दुधारू पशुओं पर शोध, उन्नत नस्ल, नस्लसुधार, दूध बढाने के तरीके एवं कम खर्चे पर दुधारू पशुओं का रख-रखाव करने का ज्ञान उपलब्ध होगा। किसानों को दौसा सांसद जसकौर मीणा ने भी संबोधित करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं लागू की है। कार्यक्रम को सांसद सुखबीर सिंह जौनापुरिया, मालपुरा विधायक कन्हैयालाल चौधरी ने भी संबोधित किया। कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए आयोजित कार्यक्रम का स्वरूप छोटा रखा गया जिसके लिए निदेशक डॉ. अरूण कुमार तोमर ने बार-बार क्षमा याचना की। इससे पूर्व केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने डिग्गी स्थित विश्वप्रसिद्ध कल्याण धणी के मंदिर पहुंचकर ढोक लगाई तथा देशवासियों की खुशहाली व समृद्धता की कामना की। केन्द्रीय कृषि राज्य मंत्री चौधरी व अन्य अतिथियों का भाजपाईयों व संगठनों की ओर से जगह-जगह स्वागत किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here