बम निरोधक दस्ते ने डॉग स्कवायड के साथ मंदिर सुरक्षा की जांच की

0
35

छोटी काशी के नाम से ख्यातिप्राप्त विश्वप्रसिद्ध तीर्थनगरी डिग्गी में 6 से 10 अगस्त तक शुरू होने वाले लक्खी मेले में मंदिर व पदयात्रियों की सुरक्षा को लेकर सतर्कता बरती जा रही है। जिसको लेकर सादा वर्दी एवं सशस्त्र पुलिस बल की तैनातगी शुरू कर दी गई है। इसी क्रम में डिग्गी पहुंचे बम निरोधक दस्ते ने कल्याण मंदिर के चारों तरफ मशीनों एवं उपकरणों से जांच की। बम निरोधक दल अजमेर के उपनिरीक्षक रणजीत मीणा के नेतृत्व में मंदिर की सुरक्षा को लेकर विभिन्न प्रकार से जांच की गई। लाखों यात्रियों के आने की संभावना को देखते हुए मंदिर के भोजनशाला, मंदिर के पीछे बालाजी स्थान, सुलभ काम्पलेक्स सहित मंदिर के चारों तरफ के घरों में भी बम निरोधक उपकरणों से गहनता से जांच की गई। प्रभारी बीडीएस टीम के नेतृत्व में मंदिर परिसर व मंदिर के बाहरी इलाके की बीडीएस उपकरणों एवं सनाइफर डॉग की मदद से सूक्ष्मता से जांच की गई। इसी प्रकार डिग्गी मंदिर में दर्शन करने से पूर्व यात्रियों को सुरक्षा के लिए लगाए गए मेटल डिटेक्टर से होकर गुजरना पडेगा। पांच दिन चलने वाले डिग्गी के लक्खी मेले में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से निपटने के लिए आरएसी व पुलिस जवानों की एक टुकडी कण्ट्रोल रूम में रिजर्व रखी जाएगी। मेले की भीड में बिछडने वाले परिजनों तक सूचनाओं के प्रसारण के लिए कण्ट्रोल रूम में विशेष व्यवस्था की जाएगी। इस अवसर पर डिग्गी थानाधिकारी हीरालाल, सीआईडी मालपुरा जोन यूनिट प्रभारी सूरज सिंह चौधरी, हैड कांस्टेबल गजेन्द्र सिंह उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here