राजकीय उमा विद्यालय कलमंडा में भामाशाहों के सहयोग से बदली तस्वीर

0
11
Changed picture with the help of Bhamashahs in Government Uma School, Kalmanda
Changed picture with the help of Bhamashahs in Government Uma School, Kalmanda

कौन कहता है कि आसमां में सुराख नहीं हो सकता-एक पत्थर तो तबियत से उछालों यारों यह जुमला राजकीय उमा विद्यालय कलमंडा के उन भामाशाहों के लिए सटीक साबित होता है जिन्होंने विद्यालय में हुई एक चोरी की वारदात में अज्ञात चोरों द्वारा कार्यालय उपयोग के समस्त संसाधनों को चोरी कर ले जाने के बाद ना केवल सहयोग से राशि एकत्रित कर एक बार फिर से संसाधन एकत्रित किए। मामले के अनुसार विगत दिनों 31 जुलाई की रात्रि को अज्ञात चोरों ने राजकीय उमा विद्यालय में धावा बोलते हुए विद्यालय में कार्यालय के ताले तोडकर कम्प्यूटर, लैपटॉप, सीसीटीवी कैमरों की डीवीआर, एलईडी, इनवर्टर मय बैटरी सहित अन्य सामान चुरा कर ले गए। चोरी की वारदात का पता दूसरे दिन सुबह चला जिसके बाद विद्यालय की ओर से डिग्गी थाने में प्राथमिकी दर्ज करवाई गई। महत्वपूर्ण सामान चोरी चले जाने से एक बार तो पूरा स्टाफ सकते में आ गया क्योंकि इन सामानों में नामांकन से लेकर विद्यालय का रिकार्ड संधारण करने सहित अन्य काम पूरी तरह से ठप्प हो गए। जिससे विद्यालय का महत्वपूर्ण रिकार्ड व अन्य जरूरी काम अटक गए। एक-दो दिन तो इसी विचार में गुजर गए कि आखिर किया क्या जाए। लेकिन विद्यालय के अध्यापक जतन चौधरी ने इसका बीडा उठाते हुए भामाशाहों के सहयोग से समस्त संसाधनों की खरीद के लिए धन जुटाना शुरू किया। साफ व हितकारी उद्देश्य को देखते हुए भामाशाहों ने भी खुलकर सहयोग किया। जिसमें सबसे पहले शुरूआत खुद जतन चौधरी ने करते हुए 1 लाख 1 हजार 101 रूपए की राशि की घोषणा की जिससे उत्साहित अन्य भामाशाहों नेमीचंद चौधरी किशनगढ ने इक्कीस हजार रूपए, भोजराज गुर्जर गुंजा द्वारा इक्कीस हजार रूपए,  टोडारायसिंह पंचायत समिति सदस्य शंकर पूनिया ने 33 हजार रूपए, माइन्स ऐशोसिएशन डूंगरी कलां ने इक्कीस हजार रूपए, पं. औमप्रकाश शर्मा भगवानपुरा ने 11 हजार रूपए, डॉ. एन एल शर्मा फार्म हाउस कलमंडा 11 हजार रूपए, लालाराम मीणा माइन्स जानकीपुरा ने 11 हजार रूपए, संत नवरतनदास गुरूदयालपुरा ने 11 हजार रूपए, रामदेव गुर्जर घासीपुरा ने इक्यावन सौ रूपए, मुकेश धनजाणी ने इक्यावन सौ रूपए, उत्तम जैन टोरडी ने इक्यावन सौ रूपए, संत मधुसूदन जी ने इक्यावन सौ रूपए, गंगा पेट्रोल पम्प कडीला ने इक्यावन सौ रूपए सहित अन्य भामाशाहों ने बढ-चढ कर धनराशि का सहयोग किया। इस प्रकार कुल लगभग 2.5 लाख रूपयों का संकलन किया जा चुका है तथा शेष के लिए प्रगति जारी है। भामाशाहों द्वारा विद्यालय सहयोग के लिए मुक्त ह्रदय से दान दिए जाने की सर्वत्र सराहना की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here